15 agust 1947

15 अगस्त ऐसा दिन है जब हम अपने महान राष्ट्रीदय नेताओं और स्व्तंत्रता सेनानियों को अपनी श्रद्धांजलि देते हैं जिन्हों ने विदेशी नियंत्रण से भारत को आज़ाद कराने के लिए अनेक बलिदान दिए और अपने जीवन न्यौजछावर कर दिए। 15 अगस्त 1947 को भारत के निवासियों ने लाखों कुर्बानियां देकर...

Read More

काठमांडू : नेपाल के काठमांडू विश्वविद्यालय अन्तर्गत डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहे लगभग चार हजार भारतीय छात्रों का भविष्य विश्वविद्यालय के असंवैधानिक कार्यकलापों और चाईना नेपाल के द्वारा एन्टी इंडियन लॉबी के संदेहास्पद रवैये की वजह से आज भी अधर में है। हम आपको बतातें चलें कि,नेपाल के काठमांडू...

Read More

भारत जैसे विशाल देश में जहां जनसंख्या का भार भूमि पर अधिक है यह आवश्यक है कि इस संसाधन का समुचित प्रबंध किया जाए क्योंकि भूमि मानव के सबसे महत्वपूर्ण संसाधनों में से एक है। मानव की समस्त प्राथमिक आवश्यकताएं भूमि से ही पूर्ण होती हैं। खाने के लिए...

Read More

बीते दिन यानी 21 जून को पूरे विश्व ने मिलकर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को धूमधाम से मनाया। इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में, प्रधानमंत्री श्री मोदी ने रांची के प्रभात तारा मैदान में, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने लाल किले में, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने...

Read More

बिहार एक बार फिर से गलत कारणों से चर्चा में है। हाल ही में सौ से ज्यादा बच्चों की मृत्यु हो चुकी है और वजह बताई जा रही है चमकी बुखार। यह एक संक्रामक बुखार है जो अक्सर बदलते मौसम में बिहार में फैल जाता है। इस वर्ष हालत...

Read More

16 जून को भारत और पाकिस्तान का बहुप्रतीक्षित मुकाबला खेला जा चुका है। बारिश से प्रभावित इस मैच को भारत ने आसानी से जीत लिया। संयोग से इसी दिन फादर्स डे भी था। पाकिस्तान आज तक आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप में भारत से कोई मैच नहीं जीत पाया है।...

Read More

आज पाँच जून है। इस दिन को सन 1974 से हम अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण दिवस के रूप में मनाते आ रहे हैं। विश्व के कोने कोने में आज पर्यावरण बचाने के लिए रैलियों और संगोष्ठी का आयोजन होगा। कई जगह वृक्षारोपण का कार्यक्रम किया जाएगा। कार्बन उत्सर्जन कम करने से...

Read More

सोशल मीडिया का आविष्कार लोगों को आपस में जोड़ने के लिए हुआ था लेकिन आजकल यह लोगों को एक दूसरे से दूर कर रही है। फेसबुक, व्हाट्सएप,यू-ट्यूब, इंस्टाग्राम, टि्वटर आदि के माध्यम से माध्यम से जहां यह सोचा गया था कि था कि लोग आपस में जुड़ेंगे और एक...

Read More
poverty-in-india

भूख से उपजी भुखमरी और इन दोनों से विवश हो जब कोई व्यक्ति भिखारी बन जाता है, तो वह व्यक्ति समाज के लिए अभिशाप बन जाता है और उसे सामाजिक समस्या करार दिया जाता है। सन् 2000 में ये अनुमान लगाया गया था कि 2010 के बाद दुनियां में...

Read More

भारत वर्ष में ग्रामीण अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार कृषि को माना जाता है और कृषकों की मुख्य आय का साधन खेती है। लेकिन आत्म निर्भर कृषि प्रधान देश मात्र अब कर्जदार देश बनकर रह गया है। इन दिनों किसानों की मुसीबतें कम होने के बजाय बढ़ती जा रही हैं।...

Read More