नई दिल्ली : मेलुक्स (Melux) नामक चीनी कंपनी ने दावा किया है कि अब इंसान की पहचान मात्र 0.3 सेकंड में या कहें कि पलक झपकते ही हो सकेगी। सबसे खास बात तो यह कि पहचान के लिए चेहरे की जरूरत नहीं होगी बल्कि हाथ की नसों से ही...

Read More

भुवनेश्वर:  भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के अध्यक्ष के. सिवन ने कहा कि देश दिसंबर 2021 तक मनुष्य को अंतरिक्ष में भेजने के अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि चन्द्रयान-2 के ‘लैंडर’ विक्रम को चंद्रमा की सतह पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ कराने...

Read More

नई दिल्ली : हाथ नहीं होने या उनमें किसी भी तरह की दिक्कत की वजह से जिन लोगों को खाना खाने में समस्याओं का सामना करना पड़ता है, वे अब अपने ‘फूड बडी’ नाम के सहयोगी को सिर्फ आवाज देंगे और वह उन्हें खाना खिलाने में मदद करेगा। यह...

Read More

बेंगलुरू : ISRO के वैज्ञानिकों ने देशवासियों को एक अच्छी खबर दी है कि चंद्रयान2 के साथ भेजे गए विक्रम लैंडर को चंद्रमा की सतह पर खोज निकाला गया है। अच्छी बात यह है कि यह सिंगल पीस में है यानी टूटा नहीं है और चंद्रमा की सतह पर...

Read More

वॉशिंगटन : भारत का चंद्रयान2 मिशन भले ही सॉफ्ट लैंडिंग के अपने लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाया है, लेकिन इसने करीब 95 फीसद सफलता हासिल की है। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ISRO के इस कदम की तारीफ देश ही नहीं दुनिया में हो रही है। जिस तरह से ISRO...

Read More

नई दिल्ली : मिशन चंद्रयान 2 में ISRO  को  बड़ी कामयाबी मिली है। विक्रम का पता चल गया है और ऑर्बिटर ने इसकी इमेज भेजी है। हालांकि, अभी तक विक्रम लैंडर से संपर्क नहीं हो पाया है, लेकिन वह किस लोकेशन पर है, उसकी पक्की जगह का पता चल...

Read More

नई दिल्ली : मिशन चंद्रयान-2  भारत का महत्वाकांक्षी कार्यक्रम था, लेकिन शुक्रवार देर रात चांद  की सतह से महज 2.1 किलोमीटर की दूरी पर आकर यह अपने रास्ते से भटक गया। इस बात की आशंका पहले ही थी कि लैंडर विक्रम  के चांद की सतह पर पहुंचने से पहले...

Read More

बेंगलुरू : चंद्रयान-2 (chandrayaan 2) के ऑर्बिटर से लैंडर ‘विक्रम’ के अलग होने के एक दिन बाद ISRO) ने बताया कि उसने यान को चंद्रमा की निचली कक्षा में उतारने का पहला चरण सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। चंद्रयान-2 अपनी मंजिल से सिर्फ एक कदम दूर है। भारतीय अंतरिक्ष...

Read More

चेन्नई : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने इतिहास रचते हुए अंतरिक्ष में एक बड़ी कामयाबी हासिल कर ली है। इसरो का “बाहुबली” रॉकेट GSLV Mk-III अपने साथ चंद्रयान-2 को लेकर उड़ान भर चुका है। चंद्रमा पर भारत के दूसरे प्रतिष्ठित एवं चुनौतीपूर्ण मिशन चंद्रयान-2 को सोमवार को आंध्रप्रदेश...

Read More

चेन्नई: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अपने दूसरे चंद्र अभियान के लिए फिर कमर कस ली है। आज दोपहर 2.43 मिनट पर भारत एक बार फिर अंतरिक्ष में इतिहास रचने जा रहा है। अगर चन्द्रयान-2 मिशन सफल होता है तो चन्द्रमा की सतह पर एक बार फिर तिरंगा...

Read More