हिंदू संस्कृति में चरण स्पर्श करना परंपरा ही नहीं, बल्कि आदर का स्वरूप है। वहीं, मनोवैज्ञानिकों का मत है, ‘चरण स्पर्श करने से लक्ष्य को पाने का बल मिलता है।’ लेकिन ध्यान रखने वाली बात यह है कि केवल उन्हीं के चरण स्पर्श करना चाहिए, जिनके आचरण ठीक हों।...

Read More

नई दिल्ली : राखी के पावन पर्व से तो पूरा देश वाकिफ है कि कैसे राखी के त्यौहार पर बहन अपनी भाई की कलाई पर राखी बांधती है और भाई बहनों की रक्षा करने का वादा करता है। ऐसा ही कुछ नजारा वाराणसी में देखने को मिला है जहां...

Read More

सीता ने व्यतीत किया था अज्ञातवास — लव-कुश का हुआ था जन्म आधुनिकता के उच्चतम शिखर पर जहां आज भी मानव जीवन के चिह्न नदारद हो वहां सदियों पहले मानवीय दिनचर्या की उपस्थिति किसी को भी देवत्व प्रदान करने के लिए पर्याप्त है, क्योंकि अत्यंत दुर्गम क्षेत्र में सामान्य...

Read More

हमारी भारतीय संस्कृति में पूजा और भक्ति का एक प्रमुख अंग तिलक को मन गया है। हमारी संस्कृति में पूजा-अर्चना, संस्कार विधि, मंगल कार्य, यात्रा गमन, शुभ कार्यों के प्रारंभ में माथे पर तिलक लगाकर उसे अक्षत से विभूषित किया जाता है। भारत में आज भी तिलक का बहुत...

Read More

भारत जैसे देश में जहाँ धर्मान्धता अपनी चरम सीमा पर व्याप्त है। वहाँ पर चाहे भी तो दलगत राजनीति से ऊपर नहीं उठाया जा सकता है। वस्तुतः जाति और धर्म यदि किसी देश की रीढ़ है, तो उनसे उपजे खतरे ही उस देश को खोखला बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका...

Read More
vastu meditation-3

कहा जाता है की इस दुनिया में मनुष्य को सबसे ज्यादा डर मरने से लगता है। लेकिन क्या सच में ऐसा है? जब विनोबा जी को कैंसर की बिमारी के बारे में पता चला तो उन्हें आपरेशन की सलाह दी गई। वर्ना तीन माह में मृत्यु की घोषणा कर...

Read More

छठ पर्व या छठ कार्तिक शुक्ल की षष्ठी को मनाया जाने वाला एक हिन्दू पर्व है। सूर्योपासना का यह अनुपम लोकपर्व मुख्य रूप से पूर्वी भारत के बिहार, झारखण्ड, पूर्वी उत्तर प्रदेश और नेपाल के तराई क्षेत्रों में मनाया जाता है। प्रायः हिंदुओं द्वारा मनाए जाने वाले इस पर्व...

Read More

“ नवरात्रि “ एक ऐसा शब्द, जिसका अर्थ साधारणतया भाषा में ज्यादातर लोग समझते है कि नवरात्रि में लोगों के दवारा शक्ति की उपासना के इस पर्व में माँ दुर्गा की उपासना की जाती है और काफ़ी श्रद्धालु नौ दिनों तक व्रत-उपवास रखते हैं और नियम-संयम से रहते हैं।...

Read More
dharm

भारत जैसे देश में जहाँ धर्मान्धता अपनी चरम सीमा पर व्याप्त है। वहाँ पर चाहे भी तो दलगत राजनीति से ऊपर नहीं उठाया जा सकता है। वस्तुतः जाति और धर्म यदि किसी देश की रीढ़ है, तो उनसे उपजे खतरे ही उस देश को खोखला बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका...

Read More
holi with water colors

होली वसंत ऋतु में मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण भारतीय त्योहार है। यह पूर्व हिन्दू पंचांग के अनुसार फाल्गुन मॉस की पूर्णिम को मनाया जाता है। होली ऐसा त्यौहार है जिसमें लोग रंगों का खूब आनंद लेते है, एक साथ मिलकर नाचना गाना धूम मचाना यही होली के त्यौहार...

Read More